डिजाईन और नयी शिक्षा प्रणाली !!

इस धरती पर कदम रखते ही समाज से हमने बहुत कुछ लिया है, पर अब समय है कि अपने आप से एक सवाल पूछें कि हमने समाज को दिया क्या है ?

तो आइए, इसी सवाल का जवाब दे पाने के लिए हम अपने शख्सियत को और मजबूत करते हैं और एक ऐसे समुदाय का निर्माण करते हैं जहां से हम लोग एकजुट होकर इन सवालों का जवाब अपने आने वाली पीढ़ियों को देने में सक्षम हों |

समय बदलाव का है तो शिक्षा के तरीके में बदलाव क्यों नहीं ?

कहा जाता है और सच्चाई यही है कि किसी भी देश को आगे बढ़ाने में शिक्षा का सबसे बड़ा योगदान होता है, तो आइए हम अपने शिक्षा व्यवस्था को और मजबूत करते हुए एक ऐसे प्रणाली का निर्माण करते हैं, एक ऐसे नए तरीके का निर्माण करते हैं जहां से हम लोग अपने बच्चों को अपनी दुनिया में खुला छोड़ दें और उनको रचनात्मक आज़ादी दें | जहां से वे अपनी सोच का इस्तेमाल कर अपनी रचनात्मक प्रवृत्ति को और आगे बढ़ाते हुए देश के लिए एक सुनहरे भविष्य का निर्माण कर सकें |

इन्ही जरूरतों को आगे बढ़ाते हुए हम लोगों ने एक ऐसे समुदाय का निर्माण कर लिया है जहां पर डिजाइन एस्पिरेंट्स, डिजाइन एजुकेटर, डिजाइन प्रोफेशनल्स एवं डिजाइन से जुड़े स्टूडेंट्स भी शामिल हैं| डिजाईन एक ऐसी शिक्षा है जिसके बारे में अभी भी अलग-अलग धारणाएँ हैं | इसलिए हम लोग एकजुट होकर डिजाइन शिक्षा को जगह-जगह पहुंचाने और उससे होने वाले फायदे और उनको नहीं समझ पाने से होने वाले घाटे के बारे में लोगों को बताते हैं | इस डिज़ाइन जागरूकता अभियान के तहत हम बच्चों तक अलग-अलग माध्यम से पहुंचने के लिए प्रयासरत हैं | इस जागरूकता अभियान के तहत हम लोगों से घर-घर जाकर मिलते हैं और उनको डिजाइन से जुड़े हर जरूरी तथ्यों को बताते हैं| डिजाइन, विगत वर्षों में एक अच्छा करियर ऑप्शन बनकर उभरा है | अब आज वक्त है कि लोगों को डिज़ाइन के सही मायने बताए जाए और अगर कोई इसको अपना करियर बनाना चाहता है, उसको डिज़ाइन समुदाय में जोड़ा जाए|

पिक्चर : रंजित प्रसाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *